New Year Sad Shayari 2020 In Hindi



New Year Sad Shayari 2020 In Hindi
2020 की सैड शायरी


Sad Shayari 2020 Hindi

सुनी ज़िन्दगी में हलचल सी महसूस हुई
बेजान दिल की आज धडकन सी महसूस हुई,
जाने क्यों आज ऐसा लगा​
शायद आपकी कमी सी महसूस हुई ।
Suni Zindagi Mein Hulchal Si Mehsus Hui,
Bejaan Dil Ki Aaj Dhadkan Si Mehsus Hui,
Jane Kyun Aaj Aisa Laga,
Shayad Aapki Kami Mehsus Hui.




दिल से तेरा ख्याल ना जाए तो क्या करुं,तू ही बता तू याद आए तो क्या करुंहसरत ये है की एक नज़र तुझे देख लूं,मगर किस्मत वो लम्हा ना लाए तो क्या करुं ।Dil Se Tera Khayal Na Jaaye Toh Kya Karu,Tu He Bata Tu Yaad Aaye Toh Kya Karu.Hasrat Ye Hai Ki Ek Nazar Tujhe Dekh Loon,Magar Kismat Wo Lamha Na Laaye To Kya Karu. 




प्यार की तडप को दिखाया नहीं जाता​दिल में लगी आग को बुझाया नहीं जाता​, लाख जुदाई हो प्यार में मगरज़िन्दगी का पेहला प्यार भुलाया नहीं जाता ।Pyaar Ki Tadap Ko Dikhaya Nahi Jaata,Dil Mein Lagi Aag ko Bhujaya Nahi Jaata.Laakh Judaai Ho Pyaar Mein Magar,Zindagi Ka Pehla Pyaar Bhulaya Nahi Jaata. 




आज हम हैं कल हमारी यादें होगींजब हम ही ना होगें, तब हमारी बातें होगीं,कभी पलटोगे जब ज़िन्दगी के ये पन्ने तो शायद आपकी आखों से भी बरसाते होगीं ।Aaj Hum Hai, Kal Humaari Yaadein Hongi,Jab Hum He Na Honge, Tab Humari Baatein Hongi.Kabhi Paltoge Jab Zindagi Ke Ye Panne, Toh Shayad Aapki Aankho Se Bhi Barsate Hongi. 




समझा ना कोई दिल की बात कोदुनिया ने बिना सोचे ही ददॆ दे दिया​,हम जो सेह गए ददॆ को चुपके सेतो हमे ही पत्थर दिल केह दिया ।Samjha Na Koi, Dil Ki Baat Ko,Duniya Ne Bina Soche He Dard De Diya.Hum Jo Seh Gaye Dard Ko Chupke Se,Toh Hume He Patthar Dil Keh Diya. 




तुम्हारी यादों को रोक पाना है मुश्किलरूठे हुए दिलों को मनाना है मुश्किल,ये दिल आपको कितना याद करता हैएक पल में लिख पाना है मुश्किल ।Tumhari Yaadon Ko Rok Pana Hai Mushkil,Ruthe Hue Dilo Ko Manana Hai Mushkil,Yeh Dil Aapko Kitna Yaad Karta Hai,Ek Pal Mein Likh Pana Hai Mushkil. 




ऑखो की ज़ुबान वो समझ नहीं पातेहम मगर कुछ केह नहीं पातेअपनी बेबसी किस तरह कहे कीकोई है जिसके बिना हम रेह नहीं पाते ।Aankho Ki Zuban Wo Samajh Nahi Pate,Hum Magar Kuch Keh Nahi Pate,Apni Bebasi Kis Tarah Kahe Ki,Koi Hai Jiske Bina Hum Reh Nahi Pate. 




लिखुं कुछ आज ये वक़्त का तकाज़ा हैदिल मे दर्द अभी भी ताज़ा ताज़ा हैगिर पडते है आँसू मेरे कागज़ परलगता है कलम में स्याही कम और दर्द ज़्यादा है ।Likhu Kuch Aaj Yeh Waqt Ka Takaza Hai,Dil Mein Dard Abhi Bhi Taaza Taaza Hai.Gir Padte Hai Aansu Mere Kagaz Par,Lagta Hai Kalam Mein Syahi Kam Aur Dard Zyada Hai. 





सौदा हमारा कभी बाज़ार तक नहीं पहुँचाइश्क भी कभी इज़हार तक नहीं पहुँचा,यूँ तो गुफ्तगू बहुत हुई उनसे मेरीसिलसिला पर प्यार तक नहीं पहुँचा ।
Sauda Hamara Kabhi Bazaar Tak Nahi Pahuncha
Ishq Bhi Kabhi Izhaar Tak Nahi Pahuncha,
Yoon Toh Guftagu Bahut Hui Unse Meri
Silsila Par Pyaar Tak Nahi Pahuncha.




हमने भी किसी से प्यार किया था
हाथो मे फूल लेकर इंतेज़ार किया था,
भूल उनकी नही भूल तो हमारी थी
क्यों की उन्होने नही हमने उनसे प्यार किया था ।
Humne Bhi Kisi Se Pyaar Kiya ThaHaanthon Mein Phool Lekar Intazaar Kiya Tha,Bhool Unki Nahi Bhool Toh Hamari ThiKyun Ki Unhone Nahi Humne Unse Pyaar Kiya Tha. 

New Year Love Sad Shayari 2020

मौसम को मौसम की बहारों ने लूटा
हमे कश्ती ने नहीं किनारों ने लूटा,
आप तो डर गये मेरी एक ही कसम से
आपकी कसम देकर हमें तो हज़ारों ने लूटा ।
Mausam Ko Mausam Ki Baharon Ne LootaHume Kashti Ne Nahi Kinaron Ne Loota,Aap Toh Dar Gaye Meri Ek He Kasam SeAapki Kasam Dekar Hume Toh Hazaaron Ne Loota. 




याद में तेरी आँखे भरता है कोई
हर सांस के साथ याद करता है कोई,
मौत तो ऐसी चीज़ है जिसको आना ही है
लेकीन तेरी जुदाई में हर रोज मरता है कोई ।
Yaad Mein Teri Aankhe Bharta Hai KoiHar Saans Ke Saath Yaad Karta Hai Koi,Maut Toh Aisi Chiz Hai Jisko Aana He HaiLekin Teri Judaai Mein Har Rooz Marta Hai Koi. 



झाँकूं उसके पीछे तो रुस्वाई ही रुस्वाई है
यूं लगता है सोते जागते
औरों का मोहताज हूँ मैं
आँखें मेरी अपनी हैं पर उनमें नींद पराई है ।
Jhaakon Uske Piche Toh Rooswaai He HaiYoon Lagta Hai Sote JaagteAuron Ka Mohtaaz Hoon MainAankhe Meri Apni Hai Par Unme Neend Parai Hai. 




अब ना करूंगा अपने ददॆ को बयां
जब ददॆ सेहना खुद को ही है तो तमाशा क्या करना ।
Ab Na Karunga Apne Dard Ko BayaanJab Dard Sehna Khud Ko He Hai Toh Tamasha Kya Karna 




अब तो खलने लग गयी पत्तों का भी शोर
मन केहता है चल कहीं सन्नाटे की ओर ।
Ab Toh Khalne Lag Gayi Patton Ka Bhi ShorMaan Kehta Hai Chal Kahin Sannate Ki Or.




कमाल की मोहब्बत थी उसको हमसे यारों
अचानक ही शुरू हुआ और बिन बताए ही ख़त्म ।
Kamaal Ki Mohabbat Thi Usko Humse YaaronAchanak He Shuru Huwa Aur Bina Bataye He Khatam. 




तकलीफ इस बात की नहीं कि तुम्हें कोई और अजीज़ है
ददॆ तब हुआ जब हम नज़रअंदाज़ किए गए ।
Taklif Iss Baat Ki Nahi Ki Tumhe Koi Aur Aziz HaiDard Tab Huwa Jab Hum Nazar Andaz Kiye Gaye. 




इस दिल को दोबारा एहसास ना दिलाना
इस दिल में दोबारा आस ना जगाना
ईष्क में तुमने इस दिल को दिए है घाव इतने
रिशते निभाने कि बात ना करना।
Iss Dil Ko Dobara Ehsaas Na DilanaIss DIl Mein Dobara Aas Na JaganaIshq Mein Tumne Iss DIl Ko Diye Hai Ghaao ItneRishte Nibhane Ki Baat Na Karna. 






बाहर शोर है तूफ़ां का
और अंदर गहरा समुंदर हैं
खाली है अल्फ़ाज़ सारे
जाने ये कैसा मंजर हैं।
Bahar Shor Hai Toofan KaAur Andar Gehra Samundar HaiKhali Hai Alfaaz SaareJaane Yeh Kaisa Manzar Hai. 




पाने से खोने का मज़ा कुछ और है
बंद आँखों से सोने का मज़ा कुछ और है
आँसू बने लफ़ज़ और लफ़ज़ बनी जुबा
इस ग़ज़ल में किसी के होने का मज़ा कुछ और है ।
Paane Se Khone Ka Maza Kuch Aur HaiBand Aankho Se Sone Ka Maza Kuch Aur HaiAansu Bane Lafaz Aur Lafaz Bani ZubanIss Gazal Mein Kisi Ke Hone Ka Maza Kuch Aur Hai.